class="post-template-default single single-post postid-186 single-format-standard unselectable single-post-right-sidebar single-post- fullwidth-layout columns-3">
You are here

डॉ० जाकिर हुसैन के जीवन से जुडी ये बातें जरूर जानें

dr-zakir-hussain-ki-life-se-judi-ye-baaten-jarur-jaane

डॉ० जाकिर हुसैन के जीवन से जुडी ये बातें जरूर जानें  biography

Dr. Zakir Hussain ki life se judi ye baaten jarur jaane

1. डॉ० जाकिर हुसैन का जन्म 8 फरवरी, 1897 को हैदराबाद में हुआ था।
2. उनके पिता का नाम फ़िदा हुसैन खान था। इनका जन्म एक संपन्न पठान परिवार में हुआ था और जन्म के कुछ ही वर्ष बाद इनका परिवार हैदराबाद छोड़ उत्तर प्रदेश रहने चला गया था।
3. जब वह केवल 10 वर्ष के थे तो उनके पिता चल बसे और 14 वर्ष की उम्र में उनकी माँ का निधन हो गया था।
4. डॉ० जाकिर हुसैन की प्रारंभिक शिक्षा इस्लामिया हाई स्कूल, इटावा में हुई। आगे की पढ़ाई के लिए वे अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी गए थे।
5. उन्होंने जर्मनी विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र में पी.एच.डी की डिग्री भी प्राप्त की। वे एक व्यावहारिक और आशावादी व्यक्तित्व के इंसान थे।
6. डॉ० जाकिर हुसैन ने शिक्षा सुधार के क्षेत्र में अपनी सक्रिय भूमिका निभाई।
7. वे भारत में आधुनिक शिक्षा के सबसे बड़े समर्थकों में से एक थे और उन्होंने अपने नेतृत्व में राष्ट्रीय मुस्लिम विश्वविद्यालय को स्थापित किया।
8. उनके द्वारा स्थापित राष्ट्रीय मुस्लिम विश्वविद्यालय आजकल ‘जामिया मिलिया इस्लामिया’ के नाम से एक केन्द्रीय विश्वविद्यालय के रूप में नई दिल्ली में मौजूद है, जहाँ से हजारों छात्र प्रत्येक वर्ष अनेक विषयों में शिक्षा ग्रहण करते हैं।
9. 1957 में डॉ० जाकिर हुसैन बिहार राज्य के गवर्नर नियुक्त हुए।
10. 13 मई, 1967 को वह देश के तीसरे राष्ट्रपति के रूप में निर्वाचित हुए।
11. डॉ० जाकिर हुसैन भारत के पहले मुस्लिम राष्ट्रपति बने।
12. इसके पूर्व 1962 से 1967 तक वे देश के उप-राष्ट्रपति भी रहे।
13. वर्ष 1954 में उन्हें ‘पद्म विभूषण’ से सम्मानित किया गया।
14. शिक्षा और राजनीति के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान देने के लिए वर्ष 1963 में डॉ० जाकिर हुसैन को भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘भारत रत्न’ से सम्मानित किया गया।
15. डॉ० जाकिर हुसैन का देहांत 3 मई, 1969 को हुआ।
16. वह भारत के पहले राष्ट्रपति हैं जिनकी मृत्यु अपने ऑफिस में ही हुई थी।
17. वे एक महान शिक्षाविद होने के साथ-साथ नेतृत्व क्षमता में भी बेजोड़ इंसान थे।
18. भारतीय राजनैतिक और शैक्षिक इतिहास में महत्वपूर्ण योगदान देने के लिए डॉ० जाकिर हुसैन को सदैव याद किया जायेगा।

डॉ एपीजे अब्दुल कलाम के जीवन से जुडी 22 बातें जो आप नहीं जानते

Leave a Reply

Top
error: Content is protected !!