जैमिनी रॉय गूगल ने उनको अपने गूगल डूडल के जरिये याद किया

By   April 11, 2017

जैमिनी रॉय का जन्म 11 अप्रैल 1887 में बंगाल के एक छोटे से गाँव में हुआ था।  16 साल की उम्र में वो बंगाल के सरकारी स्कूल जहाँ कला सिखाई जाती थी उसमे जाना प्रारम्भ कर दिया।  1908 में उनको कला की शिक्षा का डिप्लोमा मिल गया। अगर उनके परिवार की बात करे तो उनके 4 बेटे और 1 बेटी थी।  उनकी मृत्यु 24 अप्रैल 1972 में 85 वर्ष की उम्र में हुई।

जैमिनी रॉय 20 वीं शताब्दी के भारतीय कला के आधुनिकतावादी कलाकारों में से एक थे।  भारतीय कला के प्रारंभिक कलाकारों में से एक थे उनकी कला में आधुनिकता का अलग ही सौंदर्य था।

20 वीं शताब्‍दी के शुरू के दशकों में चित्रकारी की ब्रिटिश शैली में प्रशिक्षित जैमिनी राय एक प्रख्‍यात सिद्धहस्‍त चित्रकार बने। सन् 1916 में कोलकाता के गवर्नमेंट आर्ट स्‍कूल से ग्रेजुएशन के बाद उन्‍हें पोर्ट्रेट बनाने का काम नियमित रूप से मिलता रहा, लेकिन 20वीं शताब्‍दी के पहले तीन दशकों में बंगाल की सांस्‍कृतिक अभिव्‍यक्तियों में बहुत जबर्दस्‍त परिवर्तन आया। राष्‍ट्रवादी आंदोलन के प्रभाव से साहित्‍य और कलाओं में सभी तरह के प्रयोग होने लगे। अबनींद्र नाथ टैगोर ने यूरोपीय प्रकृतिवाद और कला के लिए तैल के माध्‍यम को छोड़कर बंगाल स्‍कूल की स्‍थापना से दृश्‍य कलाओं में भी प्रयोग स्‍पष्‍ट दिखाई दिए।

आज 11 अप्रैल यानी उनके जन्म दिवस के अवसर पर गूगल ने उनको अपने गूगल डूडल के जरिये याद किया और विश्व के सामने उनकी कला को सम्मान दिया , सम्मान में गूगल ने अपने डूडल में उनको सम्मान जनक स्थान दिया।

रानी लक्ष्मीबाई biography in hindi

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *